अफवाह या हकीकत ?

Sandook

Sandook

अभी ऑफिस से घर पहुँचा ही था कि श्रीमती जी ने बताया उनके मायके से फ़ोन आया था।उनकी माताश्री ने बताया कि यहाँ लोग कह रहे है।लोगों के लोहे के सन्दूक को खोलने पर उसके अंदर पैरों के निशान मिल रहे हैं।

वैसे तो वो अंधविश्वास नहीं मानती मगर जब उन्होंने अपने सन्दूक खोले तो निशान पाया।जो उन्होंने व्हाट्सएप किया।

गांव में बहुत से घरों और बहुत से संदूको में इस तरह के निशान मिल रहे हैं।

मैं आपके जानकारी के लिए यहाँ एक फोटो पोस्ट कर रहा हूं।शायद आपमे से कोई इस रहस्य का पर्दाफाश कर सके।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

hi_INHindi
en_USEnglish hi_INHindi